एनसीबी को था शक- अभिनेता अर्जुन रामपाल भाग सकते थे साउथ अफ्रीका, चार्जशीट में हुआ खुलासा


मुंबईः बॉलीवुड में ड्रग्स कनेक्शन की जांच के दौरान नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की मुंबई यूनिट ने अभिनेता अर्जुन रामपाल के घर पर छापेमारी की थी और इस छापेमारी के दौरान एनसीबी के अधिकारियों ने उनके घर से कुछ दवाइयां जप्त की थी. एनसीबी ने हालही में चार्जशीट फाइल की थी जिसमे एनसीबी अर्जुन रामपाल को अब भी सस्पेक्ट मानती है. एबीपी के हाथ चार्जशीट के पन्ने लगे हैं जिसमे एनसीबी ने उन्हें सस्पेक्ट बताया है और यह भी शक जताया था कि अर्जुन साउथ अफ्रीका भाग सकते हैं.

चार्जशीट के अनुसार मुंबई एनसीबी ने 3 दिसंबर 2020 को रिपब्लिक ऑफ साउथ अफ्रीका के काउंसलेट जनरल को लेटर लिखा था जिसमे कहा था कि “एनसीबी ने जिस मामले में बॉलीवुड अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती को गिरफ्तार किया था उसी मामले में अर्जुन रामपाल भी एक सस्पेक्ट है और एनसीबी को शक है कि वो भारत छोड़कर भाग सकते है और इस देश से भागकर वो साउथ अफ्रीका में जा सकते हैं”

एनसीबी ने उसी लेटर ने कहा, “अर्जुन रामपाल की बीवी का भाई अगिसीआलोस डिमेट्रिएड्स को एनसीबी ने दो मामले में पहले से ही गिरफ्तार किया हुआ है और अगिसीआलोस खुद भी साउथ अफ्रीकन नागरिक है”

घर से मिली थी दो तरह की टेबलेट्स

एनसीबी ने साउथ अफ्रीकन काउंसलेट को यह भी कहा था कि अगर आपके पास अर्जुन रामपाल वीजा के लिए एप्लिकेशन करते हैं तो सही कानून के हिसाब से उसपर निर्णय लिया जाए. इसके बाद एनसीबी ने अर्जुन रामपाल एनडीपीएस की धारा 67 के तहत 14 दिसम्बर को समंस भेजकर उन्हें 16 दिसम्बर को स्टेटमेंट के लिए पेश होने को कहा था.

हालांकि अर्जुन ने अपने स्टेटमेंट में एनसीबी को बताया था की जो दवाएं एनसीबी ने जप्त की हैं वो उनके कुत्ते की दर्द की दवाई और उनकी बहन की ANXIETY की दवाई थी. एनसीबी कई महीनों से बॉलीवुड में ड्रग्स के कनेक्शन की जांच कर रही है और इस दौरान अर्जुन रामपाल पर भी एनसीबी की नजर पड़ी जिसके चलते अर्जुन रामपाल को दो बार एनसीबी के कार्यालय बुलाकर पूछताछ भी की गयी.

एबीपी न्यूज़ को मिली जानकारी के मुताबिक अर्जुन रामपाल ने एनसीबी को बताया कि उनके घर से जो दो तरह की टेबलेट्स मिली है उनमें से एक टेबलेट तो उनके कुत्ते की थी जिसको वैटनरी के एक एक्सपर्ट डॉक्टर ने प्रिस्क्राइब किया था साथ ही जो दूसरी टेबलेट मिली थी वह टेबलेट उनकी बहन की थी जिसे दिल्ली के एक सायकायट्रिस्ट ने उनके ANXIETY की समस्या को ध्यान में रखते हुए प्रिस्क्राइब किया था.

दिल्ली में 76 साल बाद टूटा गर्मी का रिकॉर्ड, मार्च में ही पारा 40 के पार 



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *