पेटीएम मॉल ने 85,000 फ्रॉड सेलर्स को किया डीलिस्ट


Online Business: Paytm Mall ने 85,000 फ्रॉड सेलर्स को किया डीलिस्ट

पेटीएम मॉल ने विक्रेताओं को ब्रैंड ऑथराइजेशन लेटर देना अनिवार्य बना दिया है. जिसके चलते पेटीएम ने 85,000 फ्रॉड सेलर्स को डीलिस्ट कर दिया है

पेटीएम मॉल ने विक्रेताओं को ब्रैंड ऑथराइजेशन लेटर देना अनिवार्य बना दिया है. जिसके चलते पेटीएम ने 85,000 फ्रॉड सेलर्स को डीलिस्ट कर दिया है. पेटीएम मॉल सेलर्स की लिस्टिंग के लिए कुछ नए नॉर्म्स लाई है जिससे धोखा करने वाले सेलर्स से बचा जा सके. पेटीएम मॉल के क्वॉलिटी और सर्विस ऑडिट के लिए सेलर्स को अपना रजिस्ट्रेशन नंबर, स्टोर की लोकेशन और GSTIN की जानकारी देनी होगी. ऐसा करने से कंपनी को उम्मीद है की उसके कस्टमर्स खराब नहीं होंगे. गुड्स ऐंड सर्विसेज टैक्स (GST) लागू हुए अब लगभग 15 दिन से ज्यादा हो चुके हैं. जिसके बाद टैक्सेशन में बदलाव आया है जिसके कारण कंपनी सभी कैटिगरीज में मार्जिन स्ट्रक्चर को बदलने का विचार नहीं कर रही. पेटीएम मॉल के सीओओ, अमित सिन्हा ने बताया कि, ‘हमने अपने मार्जिन या सर्विस फीस में बदलाव नहीं किया है. लेकिन हमारे सर्विस चार्ज में GST का एक हिस्सा शामिल हुआ है.’
सिन्हा का मनना है कि सेलर की डीलिस्टिंग से पेटीएम मॉल पर होने वाली सेल्स पर कोई बड़ा असर नहीं पड़ा है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि मौजूदा सेल्स कंपनी केहमे अच्छे प्रोडक्ट्स दे रही हैं जिससे हमारा कस्टमर्स फीडबैक अच्छा हो रहा है.दुकानों को भी पेटीएम मॉल QR code सॉल्यूशन उपलब्ध कराया जाएगा जिससे कस्टमर्स अपने प्रॉडक्ट्स को स्कैन कर तुरंत ऑर्डर दे सकेंगे. कंपनी ने ब्रैंड्स और दुकानदारों को उसके प्लैटफॉर्म पर बेचे जाने वाले प्रॉडक्ट्स के लिए रिटर्न, एक्सचेंज और रिफंड पॉलिसी बनाने की सुविधा भी देगा.









Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *