फ्रॉड में फंसे इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस के प्रमोटर: कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने दर्ज की एफआईआर, कंपनी फंड के गबन का आरोप


  • Hindi News
  • Business
  • Police Register FIR Against Indiabulls Promoters, Directors, Company Moves Court To Get FIR Quashed

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

नई दिल्ली13 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
  • शेयरहोल्डर ने प्रमोटर्स और डायेरक्टर्स पर लगाए गंभीर आरोप
  • एफआईआर को रद्द कराने के लिए बंबई हाईकोर्ट पहुंची कंपनी

महाराष्ट्र पुलिस ने इंडियाबुल्स ग्रुप की कंपनीज के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। इसमें इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस (IBHL) भी शामिल हैं। एफआईआर में कंपनी के प्रमोटर्स और डायरेक्टर्स पर फंड के गबन और अकाउंट में अनियमितताएं बरतने का आरोप है।

13 अप्रैल को दर्ज हुई एफआईआर

महाराष्ट्र की पालघर पुलिस ने धोखाधड़ी, धोखाधड़ी और आपराधिक साजिश के तहत विभिन्न सेक्शन में एफआईआर दर्ज की है। IBHL के शेयरहोल्डर आशुतोष कांबले की शिकायत पर पालघर के जुडिशियल मजिस्ट्रेट ने आपराधिक प्रक्रिया संहिता के सेक्शन 156(3) के तहत जांच करने का आदेश दिया था। इसके बाद ही पुलिस ने 13 अप्रैल को एफआईआर दर्ज की है।

शेयरहोल्डर ने लगाए गंभीर आरोप

आशुतोष कांबले ने पालघर कोर्ट में दर्ज कराई शिकायत में कहा था कि 2014 से 2020 के दौरान कंपनी के कथित व्यवहारों के कारण उसके शेयरों की वैल्यू गिर रही है। कांबले ने IBHL के फाउंडर और प्रमोटर समीर गहलौत और अन्य डायरेक्टर्स पर इसमें शामिल होने समेत कई आरोप लगाए थे। साथ ही प्रमोटर्स पर कंपनी के फंड के गबन का भी आरोप लगाया गया था। एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, एफआईआर दर्ज होने के बाद प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने भी पुलिस से केस की जानकारी मांगी है।

एफआईआर रद्द कराने हाईकोर्ट पहुंची कंपनी

कंपनी ने कहा है कि मामला कोर्ट में विचाराधीन है। इसलिए कोई प्रतिक्रिया नहीं दी जा सकती है। हालांकि, सूत्रों ने जानकारी दी है कि एफआईआर को रद्द कराने के लिए कंपनी ने बॉम्बे हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की है। हाईकोर्ट इस सप्ताह के अंत में याचिका पर सुनवाई कर सकती है। इंडियाबुल्स ग्रुप के अलावा पुलिस रिपोर्ट में रियल्टी फर्म चरोडिया ग्रुप और एमरीकॉर्प कैपिटल के को-फाउंडर हरीश फैबियानी का नाम भी शामिल है।

IBHL ने हाईकोर्ट में क्या कहा?

IBHL ने हाईकोर्ट में दायर याचिका में कहा है कि कांबले पालघर में रहने का दावा करते हैं। रजिस्ट्रार एंड ट्रांसफर एजेंट्स सर्टिफिकेट के रिकॉर्ड के मुताबिक, कांबले मुंबई में रहते हैं। उनके डीमैट खाते में दादर मुंबई की जानकारी है। इसमें दादर का पता दर्ज है। IBHL का कहना है कि कांबले ने 17 मार्च को कंपनी के 500 शेयर खरीदे और 3 अप्रैल को कोर्ट पहुंच गया।

खबरें और भी हैं…



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *