स्टार्टअप हुआ फेल तो अब ये तीनों ऑनलाइन सेलर बनकर कर रहे हैं कमाई


जयपुर के राहुल जैन, अंकित अग्रवाल, पंवन गोयल Flipkart और Amazon के सेलर बनकर 10 हजार से ज्यादा प्रोडक्ट बेच रहे हैं. साथ ही, ये लोग 80 से ज्यादा लोगों को रोजगार भी उपलब्ध करा रहे हैं.

जयपुर के राहुल जैन, अंकित अग्रवाल, पंवन गोयल Flipkart और Amazon के सेलर बनकर 10 हजार से ज्यादा प्रोडक्ट बेच रहे हैं. साथ ही, ये लोग 80 से ज्यादा लोगों को रोजगार भी उपलब्ध करा रहे हैं.

  • Last Updated:
    June 25, 2018, 7:02 AM IST

जयपुर के आर्ट एंड क्राफ्ट की चर्चा तो हमेशा होती रहती है, लेकिन इसको नए जमाने के हिसाब से कारोबार की शक्ल देकर सॉफ्टवेयर इंजीनियर राहुल जैन अच्छी कमाई के साथ-साथ लोगों को रोजगार भी दे रहे हैं. जयपुरी क्राफ्ट हो या जोधपुर का बंधेज, पांव की मोजड़िया (जूतियां) हो या यहां की ब्लू पॉटरी, अब सबकुछ ऑनलाइन खरीदा-बेचा जा रहा है. राहुल जैन Flipkart और Amazon के सेलर बनकर अपने दो दोस्तों के साथ 10 हजार से अधिक प्रोडक्ट्स को ई-कॉमर्स वेबसाइट पर बेच रहे हैं. आइए जानते हैं उनके बारे में… स्टार्टअप फेल होने के बाद शुरू की नई पारी- साल 2013 में राहुल पुणे से इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर जयपुर लौटे और उसी साल उन्होंने एक कंपनी में बतौर सॉफ्टवेयर इंजीनियर काम शुरू किया. कुछ समय बाद ही उन्होंने दो स्टार्टअप शुरू किए, लेकिन दोनों ही फेल हो गए. राहुल ने हार नहीं मानी और दो दोस्त अंकित अग्रवाल और पवन गोयल के साथ मिलकर ई-कॉमर्स सेलर बन गए. यहीं से उनका बिजनेस चल निकला. (ये भी पढ़ें-गोबर के उपले बेचकर ये शख्स कमाता है दोगुना मुनाफा, आप भी ऐसे कर सकते हैं ये बिजनेस…)

राहुल जैन

30 फीसदी तक होता है मुनाफा- राहुल बताते हैं कि प्रोडक्ट्स पर मुनाफे का मार्जिन 5-30 फीसदी तक हैं.  ( ये भी पढ़ें-ऑर्गेनिक सब्जियां बेचकर ये हर महीने कमाती हैं 3 लाख रुपये)

जयपुर में राहुल और उनके साथी 80 से अधिक आर्टिजन्स को काम उपलब्ध करा रहे हैं.

शुरुआत 15 प्रोडेक्ट्स के साथ की- न्यूज18 हिंदी को राहुल जैन ने बताया कि शुरुआत में  उन्होंने अपने 15 प्रोडक्ट ही अपने रजिस्टर्ड कराएं. इसके बाद जैसे-जैसे लोगों ने ऑनलाइन सामान को तेजी से खरीदना शुरू किया. वैसे-वैसे हमराे प्रोडक्ट्स की बिक्री बढ़ती है. फिलहाल, हम ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर 10 हजार से ज्यादा प्रोडक्ट बेचते हैं.flipkart, online sellerस्थानीय लोगों को मिला रोजगार-  राहुल ने अपनी कंपनी ईक्राफइंडिया (eCraftIndia)  साथ कई स्थानीय लोगों को जोड़ा. स्थानीय कलाकारों से यूनिक प्रोडक्ट बनवाते हैं. इससे उन लोगों की कला को दुनियाभर में पहचान मिल रही हैं. साथ ही, उनको रोजगार भी मिल रहा है. राहुल ने बताया कि मांग के अनुरुप उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में करीब 80 हुनरमंद लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया है. इनके बनाए प्रोडेक्ट दुनियाभर में सेल किए जा रहे हैं. (ये भी पढ़ें VIDEO: हर महीने मोती की खेती से कमाएं 1 लाख रुपए, सरकार करेगी मदद) ये भी पढ़ें-बाबा रामदेव दे रहे हैं बिजनेस का मौका, इस तरह फ्रेंचाइजी लेकर कर सकते हैं मोटी कमाई









Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *