हाईकोर्ट के 106 जज और 2768 न्यायिक अधिकारी कोरोना से संक्रमित हुए- चीफ जस्टिस


नई दिल्ली: कोरोना महामारी ने हाईकोर्ट के जजों और सुप्रीम कोर्ट के रजिस्ट्री अधिकारियों सहित हर किसी को प्रभावित किया है. हाईकोर्ट के 100 से अधिक न्यायाधीश और 2700 से अधिक अधिकारी वायरस से संक्रमित हुए हैं. यह जानकारी सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस एनवी रमण ने दी है.

उन्होंने बताया, हाईकोर्ट के तीन जज और 34 न्यायिक अधिकारियों की वायरस के कारण मौत हुई है. सुप्रीम कोर्ट में अभी तक रजिस्ट्री के करीब 800 कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित हुए हैं और अलग-अलग समय पर छह रजिस्ट्रार और दस अतिरिक्त रजिस्ट्रार संक्रमित हुए हैं.

जस्टिस एनवी रमण ने जताया दुख
जस्टिस एनवी रमण ने कहा, ‘इस महामारी ने हर किसी को प्रभावित किया है. काफी दुख और पीड़ा के साथ मैं कुछ तथ्य कहना चाहता हूं. सुप्रीम कोर्ट रजिस्ट्री का पहला कर्मचारी 27 अप्रैल 2020 को कोविड से संक्रमित हुआ. अभी तक करीब 800 रजिस्ट्री कर्मचारी संक्रमित हुए हैं. हमारे छह रजिस्ट्रार और दस अतिरिक्त रजिस्ट्रार अलग-अलग समय पर संक्रमित हुए हैं. दुर्भाग्य से कोविड के कारण हमने अपने तीन अधिकारियों को खो दिया.’

चीफ जस्टिस डिजिटल सुनवाई की ऐप के माध्यम से मीडियाकर्मियों तक पहुंच की शुरुआत करने के अवसर पर बोल रहे थे. इस कार्यक्रम में न्यायमूर्ति धनंजय वाई चन्द्रचूड़ ने भी हिस्सा लिया. न्यायमूर्ति चन्द्रचूड़ शीर्ष अदालत में कोविड महामारी से संबंधित मामलों का स्वत: संज्ञान लेकर सुनवाई करने वाली पीठ की अध्यक्षता कर रहे हैं. वह भी कोरोना से संक्रमित हो गए हैं. कार्यक्रम में जब उनसे उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि तमाम सावधानी के बावजूद वह भी कोरोना से संक्रमित हो गए.

ये भी पढ़ें-

Corona Update: कोरोना का कम हुआ असर, 24 घंटे में 3.43 लाख नए केस, 4000 संक्रमितों की मौत

गोवा मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 13 और मरीजों की मौत, चार दिन में 75 की गई जान



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *